रविवार, 28 फ़रवरी 2010

होली के पावन पर्व पर आनन्द आपके साथ रहे । महामूर्ख कवि सम्मेलन मे राही जी मूर्खाधिराज घोषित सीतापुर- होली के अवसर पर प्रतिवर्ष की भाँति इस वर्ष आयोजित महामूर्ख कवि सम्मेलन सम्पन्न हुआ । सनकी. डा0 मंजू . कमलेश धुरन्धर . रजनीश मिश्र . चैतन्य चालू .केदार नाथ शुक्ल .अविनाश त्रिवेदी ,विशेष शर्मा ,उदय प्रताप त्रिवेदी , आशुतोष श्रीवास्तव की कविताओँ को सुनकर श्रोता लोट पोट हो गये । पूर्व केन्द्रीय मन्त्री रामलाल राही मूर्खाधिराज घोषित किए गये । राही जी ने कहा हमारी तरीके से प्रत्येक राजनेता को अपनी मूर्खता पर गर्व है । सफल संचालन कमलेश मृदु ने किया । स्वागत अरुणेश मिश्र ने व धन्यवाद गोपाल टण्डन ने किया ।

3 टिप्‍पणियां:

अरुण मिश्र ने कहा…

इस मूर्खतापूर्ण आयोजन
की समस्त मूर्खताएँ
सराहनीय रहीँ,
सभी आयोजनकर्ता
पूरी बैधाई के पात्र हैँ।

Ambarish Srivastava ने कहा…

Great!

vkmishra ने कहा…

kavitaon ke shreshth shrri kavivar shree arunesh .
chubhtey beyong van ke sang mey,
nootan hua prvesh.
I.t. khetra ka bhagya yeh
jismey nav unmesh.
chareveti chartey raho daily likho
vishes ..
bhrstrajya ka abhibyakti meyn
rahe na kutch bhi shesh.

vishnukant mishra.
vkaca @gmail.com